3 दिन से लापता चांद थाने में पदस्थ हेड कॉन्स्टेबल विजय बघेल का शव चांद पुलिस ने गुरुवार सुबह सिवनी जिले के सेलुआ घाटी के जंगल से बरामद किया है। प्राथमिक जानकारी के अनुसार प्रॉपर्टी खरीदी के मामले को लेकर सिवनी के बम्होडी में दो आरोपियों ने उनकी हत्या कर जंगल में लाकर उनके शव को दफना दिया था।

पुलिस के मुताबिक हेड कॉन्स्टेबल बघेल 10 दिन पहले ही पुलिस लाइन से चांद थाने में पदस्थ किए गए थे। 20 सितंबर को वह छिंदवाड़ा के उत्सव रिसोर्ट से अचानक गायब हो गए थे। जिसके बाद लगातार चांद पुलिस तलाश कर रही थी। मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने जब मामले की जांच की तो बघेल से फोन पर बात करने वाले दो संदिग्धों को हिरासत में लिया गया। जिन्होंने पुलिस पूछताछ में सारे मामले का खुलासा कर उनकी हत्या करने की बात कबूल कर ली।

प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री नहीं कर रहा था आरोपी, इसलिए हुआ था विवाद

पुलिस सूत्रों के मुताबिक हेड कांस्टेबल विजय सिंह बघेल ने सिवनी के प्रॉपर्टी डीलर से लगभग 27 लाख रुपए में एक प्रॉपर्टी का सौदा किया था लंबे समय से बघेल की इस प्रॉपर्टी डीलर के साथ जान पहचान थी जिसके चलते उसके साथ लेन-देन भी होता रहता था। इस दौरान लंबे समय से डीलर विजय बघेल के कहने पर भी प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री नहीं कर रहा था जिसके चलते दोनों के बीच विवाद हुआ और अपने दो साथी के साथ मिलकर कथित प्रॉपर्टी डीलर ने उनकी हत्या कर दी।

चौरई में हुई थी हत्या, सिवनी ले जाकर जाकर दफनाया शव

हेड कांस्टेबल विजय बघेल की हत्या के मामले में एक नया खुलासा पुलिस ने किया है। पुलिस के मुताबिक प्रधान आरक्षक विजय बघेल की सिवनी के वारापत्थर में रहने वाले एक कथित प्रॉपर्टी डीलर से अच्छे संबंध थे जिसका ऑफिस चोरी के गायत्री मंदिर के पास सृष्टि नगर में स्थित है। बताया जा रहा है कि इसी कार्यालय में 20 सितंबर को प्रॉपर्टी की रजिस्ट्री को लेकर प्रधान आरक्षक और प्रॉपर्टी फुल डीलर के बीच विवाद हुआ था जहां प्रापर्टी डीलर ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर उनके साथ मारपीट कर दी जिससे उनकी मौत हो गई।

गुमराह करने के लिए उत्सव रिसोर्ट के पास ले जाकर छोड़ दी गाड़ी

पुलिस सूत्रों के मुताबिक विजय बघेल की हत्या करने के बाद आरोपी प्रॉपर्टी डीलर ने अपने साथियों के साथ पहले हेड कांस्टेबल की गाड़ी को छिंदवाड़ा के उत्सव रिसोर्ट के पास ले जाकर फेंक दिया और वही मोबाइल फोन भी छोड़ दिया ताकि किसी को कोई शक ना हो। बाद में दोपहिया वाहन में डालकर विजय बघेल के शव को सिवनी जिले के बम्होड़ी मे ले जाकर दफना दिया। पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर इस मामले की गुत्थी सुलझा ली है फिलहाल अभी पुलिस आरोपियों के नाम का खुलासा नहीं कर रही है।

4 फिट गड्ढा खोदकर गड़ाया था शव

आरोपियों के बताए अनुसार पुलिस ने तस्दीक करते हुए बम्होडी गांव में पुरानी शराब दुकान के पास जंगल से शव को बाहर निकाल गया। आरोपियों ने यहां 4 फीट गड्ढा खोदकर शव को दफना था।


About The Author

By jansetu