विश्व पर्यावरण दिवस पर विभिन्न कार्यक्रम,पर्यावरण प्रचार रथ, वृक्षारोपण,रंगोली स्पर्धा, भाषण प्रतियोगिता ।।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ शिरीष रघुवंशी के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर पखवाड़े का आयोजन किया गया।
स्थानीय लाल बाग उद्यान से पर्यावरण प्रचार रथ को हरी झंडी सीएमएचओ डॉ शिरीष रघुवंशी, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव एवं न्यायाधीश सचिन घोष, स्टेट कंसलटेंट पर्यावरण जावेद खान सीईओ जनपद पंचायत धार द्वारा दी गई दी गई, प्रचार रथ भृमण करते रहेगा एवं लोगो मे पर्यावरण के प्रति जागरूक करेगा।
कार्यक्रम में सीएमएचओ डॉ शिरीष रघुवंशी,भोपाल स्टेट कंसल्टेंट जावेद खान,धार डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष प्रदीप जोशी,धार स्पोर्ट्स एंड कल्चरल सोसाइटी के अध्यक्ष धीरेंद्र दीघे,जिला महामारी नियंत्रण अधिकारी एवं जलवायु परिवर्तन कार्यक्रम के नोडल डॉ संजय भंडारी, सीईओ जनपद पंचायत सौरभ कुशवाहा वसुधा विकास संस्थान डायरेक्टर गायत्री परिहार, अखिलेश दुबे, फ्लोरोसिस कंसलटेंट डॉ एमडी भारती, एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉक्टर श्रीनिवास साहू,आईडीएसपी प्रभारी कमलेश शिवले, यूथ वॉलिंटियर यूथ फॉर चिल्ड्रन यूनिसेफ के कार्यकर्ता सतीश वाणी, पूजा कुशवाहा, रितिष चौहान, दिविषा परिवार जितेंद्र ठाकुर उपस्थित रहे।

इस वर्ष के विषय “ONE EARTH” के साथ वृक्षारोपण का संदेश के साथ डॉ शिरीष रघुवंशी ने बताया विश्व पर्यावरण प्रत्येक वर्ष 5 जून को विश्वभर में पर्यावरण के नकारात्मक प्रभावो को रोकने के लिए लोगो को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है इस अभियान की शुरुआत का उद्देश्य वातावरण की स्थितियों पर ध्यान केन्द्रित करने और हमारे ग्रह पृथ्वी के सुरक्षित करने के लिए पर्यावरण में सकारात्मक बदलाव का भाग बनने के लिए लोगो को प्रेरित करना है
आज के समय में पर्यावरण व ग्लोबल वार्मिंग का मुद्दा बहुत बडा है प्रदूषण और ग्लोबल वार्मिंग से युक्त वातावरण में सकारात्मक बदलावो को लाने के लिए सबको साथ में मिलके पर्यावरण को दूषितरहित बनाना होगा। ग्लोबल वार्मिंग का प्रभाव मानव जाति के अलावा पशु पक्षियों तथा पेड़ पौधों सभी पर पढ़ रहा है इसलिए ऐसे उपाय किए जाने चाहिए जिससे पर्यावरण की सुरक्षा हो सके।पर्यावरण के लिए हमें पौधे ज्यादा से ज्यादा लगाना चाहिए क्योकि पेड न केवल कार्बन डाईऑक्साइड लेते है, बल्कि वातावरण से कई हानिकारक गैस भी ग्रहण करते है। इन दिनों वाहनो और औधौगिक फैक्ट्रियों से बहुत प्रदूषण निकल रहा है। अधिक से अधिक पेड लगाने से प्रदूषित हवा से छुटकारा मिलता है , एलईडी बल्ब का उपयोग करना चाहिए इससे ऊर्जा की खपत कम होती है। पर्यावरण के लिए प्लास्टिक सबसे बडा खतरा है। प्लास्टिक का उपयोग नही करना चाहिए।

पर्यावरण दिवस पखवाड़े पर आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले कॉलेज के विद्यार्थियों को कार्यक्रम में सीएमएचओ डॉ शिरीष रघुवंशी द्वारा पुरस्कृत किया गया।
भाषण प्रतियोगिता में प्रथम नागेश्वर दंगाया, द्वितीय पद्मिनी हिरवे, तृतीय रवि ठाकुर।
इसी प्रकार रंगोली प्रतियोगिता में भाग लेने वाले रितिका यादव, पारुल मालवीय, तनीषा मकवाना, अंजलि डाकिया, किरण अलावा को पुरस्कृत किया गया एवम प्रमाण पत्र वितरित किए गए।
विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर सीएमएचओ कार्यालय फड़के स्टूडियो में अधिकारियों व कर्मचारियों द्वारा पौधारोपण का कार्यक्रम भी आयोजित किया जिसमें छायादार एवं फलदार वृक्षों को लगाया गया। साथ में ही संकल्प लिया गया की जहां भी रहेंगे ,उस स्थान पर वृक्षों को आवश्यक रूप से हमेशा लगाएंगे।

About The Author

By jansetu